बुधवार, 15 अगस्त 2018

[वैश्विक हिंदी सम्मेलन ] मॉरीशस और हिंदी : रामदेव धुरंधर- मॉरीशस के हिंदी साहित्यकार


विश्व हिंदी सम्मेलन के अवसर पर विशेष


रामदेव धुरंधर
     
  'इफ्फको श्रीलाल शुक्ल स्मृति साहित्य सम्मान'  तथा  'वैश्विक हिंदी साहित्य सम्मान'  प्राप्त करते हुए रामदेव धुरंधर।

 
नाम :  रामदेव धुरंधर
जन्म : 11 - 06 - 1946

जीवन और साहित्य - प्रकाशित पुस्तकें

पन्यास
1 - चेहरों का आदमी 2 - छोटी मछली बड़ी मछली 3 - पूछो इस मोटी से 4 - बनते बिगड़ते रिश्ते
5 - विराट गली के बासिंदे  [ व्यंग्य उपन्यास ] 6 - पथरीला सोना
प्रथम भारतीय आप्रवासी मज़दूरों के मॉरिशस आगमन और यहाँ जन्मी उन की संतानों [1834 -- 2014 ] पर आधारित छखंडीय प्रकाशित ‘पथरीला सोना’ हिन्दी उपन्यास ।  
कुल 3000 पन्ने और 600 के लगभग पात्र ]

कहानी संग्रह
1 - विष – मंथन 2 - जन्म की एक भूल 3 - अंतर्मन -- मेरी 19 प्रतिनिधि कहानियाँ

व्यंग्य संग्रह
1 - कलजुगी करम - धरम 2 - बंदेआगे भी देख 3 - चेहरों के झमेले 4 - पापी स्वर्ग
5 - कपड़ा जब उतरता है  [ व्यंग्य संग्रह ]

लघु कथा संग्रह
1 - चेहरे मेरे तुम्हारे2 - यात्रा साथ - साथ 3 - एक धरती एक आकाश 4 - आते - जाते लोग
5 - मैं और मेरी लघु कथाएँ संग्रह - 1
6 - मैं और मेरी लघु कथाएँ [ 2 संग्रह ]

सर्व जोड़ प्रकाशित लघु कथाएँ 2600.
1 -- गद्य - क्षणिका [ एक प्रयोग ] 
  
   
 
मुख्य सम्मान

सातवाँ विश्व हिन्दी सम्मेलन सूरीनाम -- 2003
सृजन श्री सम्मान -- अंतरराष्ट्रीय हिन्दी सम्मेलन -- 2012
विश्व हिन्दी रत्न -- आधारशिला नैनीताल -- 2012
विश्व भाषा हिन्दी सम्मान -- विश्व हिन्दी सचिवालय -- 2013
अंतरराष्ट्रीय वागेश्वरी सम्मान -- मोरिशस दिल्ली [ समंवित  2013 ]
श्री हजारीप्रसाद द्विवेदी सम्मान -- नैनिताल आधारशिला -- 2013
विश्व भारती सम्मान -- आधारशिला प्रकाशन भारत -- 2014
प्रेमचंद सम्मान -- हिन्दी भवन न्यास -- नैनिताल भारत -- 2015
साहित्य शिरोमणि सम्मान -- मॉरिशस भारत अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी -- 2015
हिन्दी विदेश प्रचार सम्मान -- उ. प्र. हिन्दी संस्थानलखनऊ -- 2016
मॉरिशस हिन्दी रत्न सम्मान -- 2016
विश्व नागरी रत्न सम्मान -- देवरिया भारत -- 2017
विश्व हिन्दी शिरोमणि सम्मान -- 2017
भारतेन्दु हरिश्चंद सम्मान -- 2017
इफ्फको श्रीलाल शुक्ल स्मृति साहित्य सम्मान – 2017 , नई दिल्ली
वैश्विक हिंदी साहित्य सम्मान –  वैश्विक हिंदी सम्मेलन,  2018, मुंबई


अन्यान्य
1973 से भारत में कहानियों के प्रकाशन का श्रीगणेश । भारत में पहली कहानी ‘धर्मयुग’ के फरवरी 1973 के अंक में छपी थी । [ संपादक डाक्टर धर्मवीर भारती ]
भारत के अनेक कहानी संग्रहों में इनकी कहानियाँ संग्रहित हैं ।
आजकलधर्मयुगसारिकानीहारिकागगनांचलआधारशिलाप्रवासी संसारग्राम संस्कृति तथा अनेकानेक भारतीय पत्रिकाओं में इनकी करीब 50 कहानियाँ प्रकाशित ।
मॉरिशस में साठ तक कहानियाँ प्रकाशित ।
इनके लिखे दो वृहत नाटक पूरे मॉरिशस में मंचित हुए हैं ।
भारत और मॉरिशस में अकसर लेख प्रकाशित होते रहते हैं ।
स्थानीय रेडियो में [ 1990 - 2000 ] के बीच 200 स्वलिखित रेडियो नाटक का प्रसारण ।
स्थानीय रेडियो में हिन्दी साहित्य पर आधारित तीन [ 1990 - 2000 ] कार्यक्रमों के प्रस्तोता के रूप में विख्यात । 
1976 से 2006 [ अवकाश ग्रहण तक ] महात्मा गांधी संस्थान में  प्रकाशन प्रभारी ।
इनकी पुस्तकों पर भारत में  शोधार्थी संलग्न हैं 

संपर्क :  rdhoorundhur@gmail.com
           
     
           (प्रस्तुति)
डॉ. एम.एल. गुप्ता 'आदित्य'
 वैश्विक हिंदी सम्मेलनमुंबई

वैश्विक हिंदी सम्मेलन विकिपीडिया का लिंक-

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें