बुधवार, 12 सितंबर 2018

[वैश्विक हिंदी सम्मेलन ] नैतिक शिक्षा एवं बाल शिक्षा माध्यम कार्यशाला व सम्मान समारोह2


नैतिक शिक्षा एवं बाल शिक्षा माध्यम कार्यशाला व सम्मान समारोह
हिंदी भवन, विष्णुदिगंबर मार्ग, नई दिल्ली-110002








अंतिम प्रवक्ता मासिक पत्रिका एवं संस्था परिवर्तन जन कल्याण समिति के सयुक्त तत्वाधान में 5 सितम्बर षिक्षक दिवस एवं 14 सितम्बर हिंदी दिवस के उपलक्ष्य में हिंदी भवन, विष्णुदिगंबर मार्ग, नई दिल्ली-110002 में नैतिक शिक्षा एवं बाल षिक्षा माध्यम कार्यशाला व सम्मान समारोह दिनांक 08 सितम्बर 2018 को आयोजित किया गया। 
कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ. रामशरण गौड़, अध्यक्ष, दिल्ली पब्लिक लायब्रेरी बोर्ड, संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार ने की। मुख्य अतिथि के रुप में डॉ. सत्यनारायण जटिया, माननीय संसद सदस्य, राज्य सभा, उपाध्यक्ष, संसदीय राजभाषा समिति, विशिष्ट अतिथि श्री अशोक ठाकुर, निदेशक नेफेड, नामिति भारत सरकार, श्रीमती इन्दिरा मोहन, महामंत्री, दिल्ली हिंदी साहित्य सम्मेलन, डॉ. एम.एल. गुप्ता आदित्य, निदेशक, वैश्विक हिंदी सम्मेलन, श्री प्रभात कुमार वर्मा, सदस्य, हिंदी सलाहकार समिति, इस्पात मंत्रालय, भारत सरकार, श्री रवि चाणक्य, अध्यक्ष, नरेन्द्र मोदी विचार मंच, कै. अजय कुमार, राष्ट्रीय अध्यक्ष, आपदा प्रबंधंन, श्री पटेल उमेश कनौजिया, राष्ट्रीय अध्यक्ष, राष्ट्रीय उद्योग एवं व्यापार मंच (पंजी.) उपस्थित थे।
कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्जवलन से एवं स्वंर्गीय राजकरण सिंह के प्रतिमा पर पुश्पाणपर्ण से हुआ। स्वागताध्यक्ष श्रीमती संतोष गोयल, महा सचिव, महिला मोर्चा, भाजपा, दिल्ली प्रदेश ने कार्यक्रम को देश सेवा का कार्यक्रम बताया। संस्था अध्यक्ष देशपाल सिंह राठौर ने संस्था की उपलब्ध्यिं व गतिविधियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि संस्था यह कार्यक्रम बच्चों में संस्कार और उनकी मातृभाषा को समृपित करती है। वैश्विक हिंदी सम्मेलन के निदेशक डॉ. एम.एल. गुप्ता आदित्य ने कहा अंग्रेजी के खेतों में भारतीय संस्कृति व नैतिकता नहीं उग सकती, और पेट को रोटी यानी रोजगार दिए बिना हिंदी के खेतों में अर्थात स्कूलों में कोई जाएगा नहीं । इसलिए नैतिकता व भारतीय संस्कृति के विकास के लिए हमें अपनी भाषाओं  के माध्यम से रोजगार को बढ़ाना होगा ।

कार्यक्रम के द्वितीय चरण में राजभाषा कार्यान्वयन रत्न सम्मान एवं शिक्षक रत्न सम्मान वितरित किये गये। हिंदी राजभाषा कार्यान्वयन रत्न सम्मानः डॉ. रामचन्द्र रमेश आर्य, संयुक्त निदेशक (राजभाषा), कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय, भारत सरकार, हिंदी राजभाषा कार्यान्वयन रत्न सम्मानः श्री आनन्द कुमार, संयुक्त निदेश (राजभाषा), इस्पात मंत्रालय, भारत सरकार, शिक्षक रत्न सम्मान, डॉ. अनिल जैन, (योग गुरु), सदस्य, हिंदी सलाहकार समिति, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय, भारत सरकार, शिक्षक रत्न सम्मान, डॉ. अंजु मेहरौत्रा, प्रधानाचार्य, कालका पब्लिक स्कूल, अलकनंदा, नई दिल्ली, शिक्षक रत्न सम्मानः डॉ. सुधा षर्मा पुष्प,हिंदी विभाग डीपीएस आर.के. पुरम, शिक्षक रत्न सम्मानः डॉ. रामगोपाल षर्मा, संपादक, आलोक पर्व, शिक्षक नई दिल्ली। शिक्षक रत्न सम्मान, डॉ. सरिता गुप्ता, विद्या विहार विद्यालय, नवीन शाहदरा, नई दिल्ली,शिक्षक रत्न सम्मानः श्री दीपक गोस्वामी, कवि एवं निगम शिक्षक को दिया गया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. इन्द्र सेंगर, पूर्व राजभाषा अधिकारी, नौवहन मंत्रालय, भारत सरकार, श्री सुरेश खंडेलवाल, श्रीमती शीला मिश्रा, श्रीमती स्नेह वेद, ने किया व धन्यवाद ज्ञापन डॉ. हरिसिंह पाल, पूर्व कार्यक्रम अधिशासी, आकाशवाणी, नई दिल्ली दिल्ली ने किया। 

इस कार्यक्रम को भारत सरकार के उपक्रम इंडिया ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड ने प्रायोजित किया था। सभागार में उड़ीसा, महाराष्ट्र, आन्ध्र प्रदेश, जम्मू काश्मीर, हरियाणा व उत्तर प्रदेश, गुजरात और अरूणाचल प्रदेष से पधारे साहित्यकार, समाजसेवी, बुद्धिजीवी, संस्था कार्यकर्ता एंव मीडियाकर्मी उपस्थित थे। कार्यक्रम को सफल बनाने में नरेन्द्र मोदी विचार मंच एवं राष्ट्रीय उद्योग एवं व्यापार मंच के पदाधिकारियों सहित श्री हरि चन्द आर्य, प्रधान आर्य समाज मदनगीर, दिग्विजय पाठक, संस्था उपाध्यक्ष, हेमन्त सिंह चौहान, संस्था महासचिव, बृज मोहन शर्मा, नन्द किशोर शर्मा, मनोज कुमार व प्रदीप कुमार एवं श्रीमती स्नेह वेद  की विशेष भूमिका रही। राष्ट्रगान के बाद कार्यक्रम समाप्त किया गया।
परिवर्तन जन कल्याण समिति-दिल्ली
देषपाल  सिंह राठौर, 0989911288


झिलमिल
जय विजय अंक सितंबर 18

वैश्विक हिंदी सम्मेलन, मुंबई
वेबसाइट- वैश्विकहिंदी.भारत /  www.vhindi.in

प्रस्तुत कर्ता : संपत देवी मुरारका, विश्व वात्सल्य मंच
murarkasampatdevii@gmail.com  
लेखिका यात्रा विवरण
मीडिया प्रभारी
हैदराबाद
मो.: 09703982136

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें