सोमवार, 16 नवंबर 2015

इंग्लैंड के बर्मिंघम शहर पहुंचा ‘वैश्विक हिंदी सम्मेलन’ शील निगम

इंग्लैंड के बर्मिंघम शहर पहुंचा ‘वैश्विक हिंदी सम्मेलन’

‘इंग्लॅण्ड’ में ‘बर्मिंघम’ शहर के ‘गीता भवन’ में श्रीमती शैल अग्रवाल जी की ई-पत्रिका ‘लेखनी’ का वार्षिक कार्यक्रम ‘लेखनी सानिध्य’ आयोजित किया गया। जहाँ ब्रिटेन के गणमान्य साहित्य-प्रेमी उपस्थित थे। तीन घंटे तक चले इस कार्यक्रम में काव्य-गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमे ब्रिटेन तथा भारत के अनेक प्रसिद्ध साहित्य-प्रेमी कवियों ने अपनी सुन्दर रचनाओं का पाठ किया. इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ‘भारत के कांउसलेट जनरल’ श्री जे के शर्मा जी थे। लंदन से ‘कथा यू.के.’ के महासचिव एवं ब्रिटेन की साहित्यिक हिन्दी पत्रिका ‘पुरवाई’ के संपादक श्री तेजेन्द्र शर्मा, लन्दन की वरिष्ठ कथाकार श्रीमती उषाराजे सक्सेना तथा कोलिंडेल वार्ड (लन्दन बरो ऑफ़ बार्नेट) की कॉउंसलर श्रीमती ज़किया ज़ुबेरी जी भी यहाँ उपस्थित थींं ।
आयोजन में ‘वैश्विक हिंदी सम्मलेन’ की ओर ‘वैश्विक हिंदी सम्मलेन’ की समन्वयक और साहित्यकार श्रीमती शील निगम ने इस साहित्यिक सभा में ‘वैश्विक हिंदी सम्मलेन’ संस्था की गतिविधियों की जानकारी तथा उद्देश्यों का संक्षिप्त परिचय दिया । इस अवसर पर श्रीमती शील निगम ने वैश्विक हिंदी सम्मलेन’ की ओर से वरिष्ठ साहित्यकार एवं ‘लेखनी’ की संपादक श्रीमती शैल अग्रवाल जी को वैश्विक हिंदी सम्मलेन’ के निदेशक डॉ. एम.एल. गुप्ता ‘आदित्य’ द्वारा लिखे पत्र की जानकारी देते हुए हिंदी भाषा एवं साहित्य के प्रति महत्वपूर्ण योगदान, हिन्दी साहित्य के प्रसार कार्य तथा राष्ट्र भाषा हिंदी के प्रति उनकी निष्ठा के लिए ‘वैश्विक हिंदी साहित्य-सारथि सम्मान’ से विभूषित करने के निर्णय की घोषणा की ।
unnamed (1) (1)

वैश्विक हिंदी सम्मेलन, मुंबई
vaishwikhindisammelan@gmail.com
वेबसाइट- वैश्विकहिंदी.भारत / www.vhindi.in

वैश्विक हिंदी सम्मेलन की वैबसाइट –www.vhindi.in
‘वैश्विक हिंदी सम्मेलन’ फेसबुक समूह का पता-https://www.facebook.com/groups/mumbaihindisammelan/
संपर्क – vaishwikhindisammelan@gmail.com
प्रस्तुत कर्त्ता
संपत देवी मुरारका
अध्यक्षा, विश्व वात्सल्य मंच
लेखिका यात्रा विवरण
मीडिया प्रभारी
हैदराबाद
https://mail.google.com/mail/images/cleardot.gif 



कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें