बुधवार, 28 नवंबर 2018

हिंदी बनें राष्ट्रभाषा अभियान की सभा आयोजित | एम एल गुप्ता आदित्य व्यवस्थापक


भारतीय भाषा सम्मान यात्रा की व्यवस्था के लिए बिजय कुमार जैन अपने साथियों के साथ हैदराबाद पहुंचे
हैदराबाद में होगी ३१ दिसम्बर २०१८ को हिंदी बनें राष्ट्रभाषा अभियान की सभा आयोजित |
दिनांक २८ नवंबर २०१८ को हम सभी हैदराबाद पहुंचे हैदराबाद में हम सभी जैन मंदिर के प्रांगण में यहां के स्थानीय समाजसेवी अरुण मुथा जैन के नेतृत्व में हम सभी सुरेंद्र बाबू लुनिया से मुलाकात की और उन से निवेदन किया कि हम हैदराबाद में ३१ दिसंबर २०१८ से संध्या को पहुंचेंगे हमारे साथ भारतीय भाषा सम्मान यात्रा में शामिल करीब ५०० लोग होंगे और यहां के स्थानीय भारतीय भाषा सैनियों के साथ हमारी एक सभा होगी, आम सभा में हम लोगों से कहेंगे कि हर इंसान पहले अपनी मातृभाषा को प्यार करता है, हर एक को राष्ट्रभाषा से प्यार करना चाहिए कारण यह है कि भारत के किसी भी कोने में जाकर हम राष्ट्रभाषा के द्वारा अपनी रोजी-रोटी कमा सकते हैं हमारा नारा है, पहले मातृभाषा फिर राष्ट्रभाषा। बाबूजी ने हमें कहा कि हम यहां के स्थानीय हिंदी महाविद्यालय या कुलपाक तीर्थ में व्यवस्था करने की पूरी कोशिश करेंगे हमने उनसे कहा कि आपका यह सहयोग भारतीय भाषा संस्कृति संवर्धन के इतिहास में मील का पत्थर साबित होगा और हमें विश्वास है कि जनवरी महीने में आदरणीय महामहिम राष्ट्रपति जी के पास पहुंच कर निवेदन करेगें कि सभी भारतीय भाषाओं का सम्मान बढ़ाया जाए और भारत की राष्ट्रभाषा घोषित हो यह है १२५ करोड़ लोगों के अरमान, साथ ही हम महामहिम से निवेदन करेंगे कि इंडिया का नाम जो अंग्रेजो के द्वारा हम पर थोेपा गया उसे भारत के नाम से संबोधित किया जाए हमें विश्वास है कि आदरणीय महामहिम हमारे निवेदन पर कार्रवाई करेंगे।
 -जय भारत जय भारतीय संस्कृति
बिजय कुमार जैन ‘हिंदी सेवी’



एम एल गुप्ता आदित्य


प्रस्तुत कर्ता : संपत देवी मुरारका, विश्व वात्सल्य मंच
murarkasampatdevii@gmail.com  
लेखिका यात्रा विवरण
मीडिया प्रभारी
हैदराबाद
मो.: 09703982136

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें