गुरुवार, 17 दिसंबर 2020

आचार्य श्री के दर्शन करने पहुँचे न्यायमूर्ति वीरेंदर सिंह --आचार्य विद्यासागर की प्रेरणा से पहली बार दिया हिन्दी में निर्णय - निर्मल कुमार पाटोदी, इन्दोर्र






 प्रस्तुति:एम. एल.गुप्ता 'आदित्य'

प्रस्तुत कर्ता : संपत देवी मुरारकाविश्व वात्सल्य मंच

murarkasampatdevii@gmail.com  

लेखिका यात्रा विवरण

मीडिया प्रभारी

हैदराबाद

मो.: 09703982136

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें