बुधवार, 7 मार्च 2012

video-2012-03-06-20-18-13.mp4

2 टिप्‍पणियां:

  1. .

    आदरणीया संपत देवी मुरारका जी,
    पहली बार पहुंचा हूं आपके यहां … आनंद आ गया सचमुच :)

    मैं भी गा उठा "होलिया में उडै रे गुलाल,चालो बरसानै में …"

    बहुत सुंदर वीडियो क्लिप आपने होली के उपहार स्वरूप दी है हमें … आभार !

    # साची बतावो , थे राजस्थानी हो कांईं ?
    राजस्थानी होवो तो म्हारी एक होळी रचना पढण-सुणन खातर पधारो सा… लिंक है -

    आयो म्हारै देश में होळी रौ त्यौंहार
    )


    होली पर भी मेरी ओर से भी मंगलकामनाएं स्वीकार करें

    **♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥
    ~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~
    ****************************************************
    ♥ होली ऐसी खेलिए, प्रेम पाए विस्तार ! ♥
    ♥ मरुथल मन में बह उठे… मृदु शीतल जल-धार !! ♥



    आपको सपरिवार
    होली की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं !
    - राजेन्द्र स्वर्णकार
    ****************************************************
    ~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~
    **♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥

    उत्तर देंहटाएं
  2. आदरणीय राजेन्द्र स्वर्णकार जी,
    मैं राजस्थानी हूँ , लेकिन हिंदी ही लिखती हूँ | भाषा सीर्फ घर मं आपस माय बोलां | रचना घणीं सोवणीं है, बधाई स्वीकार करजो |
    संपत

    उत्तर देंहटाएं