बुधवार, 26 सितंबर 2012

सर्वदलीय गौरक्षा मंच की बैठक आयोजित


सर्वदलीय गौरक्षा मंच की बैठक आयोजित






सर्वदलीय गौरक्षा मंच की बैठक आयोजित

गोपाष्टमी तथा अक्षय नवमी के अवसर पर आगामी 20 नवंबर से आयोजित किए जाने वाले विश्वस्तरीय दो दिवसीय गौरक्षा महासम्मेलन का उद्घाटन पथमेडा के संत गौऋषि दत्त शरणानंद जी महाराज के हाथों किया जाएगा |

सर्वदलीय गौरक्षा मंच हैदराबाद के तत्वावधान में रविवार 9 सितम्बर को सार्वजनिक बैठक मोजमजाही मार्केट के समीप बेगम बाजार स्थित होटल आई मेक्स इंटरनेशनल में मंच की विश्वस्तरीय गौरक्षा महासम्मेलन हेतु आयोजन किया गया, जिसमें सभी सदस्यों की सहमति से उक्त निर्णय लिया गया |

सम्मेलन के आयोजक सर्वदलीय गौरक्षा मंच की आज यहाँ जारी प्रेस विज्ञप्ति में यह जानकारी दी गई कि इस अवसर पर प्रसन्न भंडारी (अध्यक्ष), नेमीचंद चौरडिया (मुख्य अतिथि), रामनिवास गुप्ता (विशेष अतिथि), डॉ. बिंदूजा महाराज बिंदू’, रामगोपालजी गोयनका, बृजभूषण बजाज, एवं विजयलक्ष्मी काबरा (कोषाध्यक्ष) मंचासीन हुए | विज्ञप्ति के अनुसार बैठक में गोपाल गौशाला के अध्यक्ष तुलसीराम बंसल ने पथमेड़ा के संत गौऋषि दत्त शरणानंद जी महाराज के हाथों सम्मेलन की शुरूआत करने का प्रस्ताव रखा, जिसका सभी ने अनुमोदन किया | इसके बाद गोपाल गौशाला के मंत्री महावीर अग्रवाल ने भी अपने सुझाव पेश करते हुए गोबर तथा गौमूत्र से विभिन्न औषधियों का उत्पादन करने वाले और गाय तथा गौवंश के बारे में विस्तृत जानकारी रखने वाले गौसेवक शंकरलाल को भी विशेष रूप से आमंत्रित करने का सुझाव रखा, जिस पर भी सभी ने उसका अनुमोदन किया | इसके अलावा बैठक में देश के वरिष्ठ गौभक्त झूमरलाल टावरी को भी सम्मेलन का न्योता देने का निर्णय लिया गया |

बैठक का नेतृत्व करते हुए मंच के अध्यक्ष प्रसन्न भंडारी ने मुख्य अतिथि नेमीचंदजी चौरडिया को सम्मानित करते हुए शिवमंदिर गौशाला के विकास में दिये गए योगदान के लिए उनकी मुक्त कंठ से सराहना की | उन्होंने शिवमंदिर गौशाला को संचालन के लिए स्वयंपूर्ण बनाने में गणेशजी की ओर से दिये गये योगदान की भी सराहना की |

इस अवसर पर विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित रामनिवास गुप्ता को उपाध्यक्ष शशिकांत अग्रवाल तथा कोषाध्यक्ष विजयलक्ष्मी काबरा ने सम्मानित किया | इस सम्मान के बाद संबोधित करते हुए रामनिवास गुप्ता ने गौरक्षा के लिए शुरू किये गये कार्यों की प्रशंसा करते हुए उन्हें सफल बनाने के अलावा प्रस्तावित विश्व स्तरीय गौरक्षा सम्मेलन को सफल बनाने में अपनी ओर से योगदान देने की भी घोषणा की | बैठक को संबोधित करते हुए डॉ.बिंदूजा महाराज बिंदूने संगठन की स्थापना के समय जिन बिंदुओं पर कार्य शुरू किया था, उनका विस्मरण नहीं होने देने की सलाह दी | रामगोपाल गोयनका जी ने भी अपने विचार व्यक्त किये | इसके बाद मंच की अगली बैठक का आयोजन आगामी 16 सितम्बर को करने की घोषणा की गई |

बैठक में धर्मीचंद कुमावत, सत्यनारायण रोहिवाल, आलोक शुक्ला, सम्पत देवी मुरारका, राम देशपांडे, अरुणा गुप्ता और कई गणमान्य व्यक्तियों ने भाग लिया | ठाकुर जयपाल नयाल ने संचालन किया |
संपत देवी मुरारका
मीडिया प्रभारी




कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें